जब फ़िरोज़ खान ने की जीनत अमान के साथ गालीगलौज

0
46
फ़िरोज़ खान जब अपनी फिल्म धर्मात्मा की प्लानिंग कर रहे थे तो उनके दिमाग में अभिनेत्रियों के लिए दो नाम पहले से तय थे .ये थी हेमा मालिनी और जीनत अमान.हेमा मालिनी फिल्म की मुख्य हीरोइन होती और जीनत को सपोर्टिंग रोल के लिए लिया जाना था .जीनत का सितारा उन दिनों बुलंदियों पर था और वो बड़े-बड़े सितारों के साथ लीड रोल ही कर रही थी .ऐसे में सपोर्टिंग रोल के लिए वो तैयार होती इसमें शक था और हुआ भी यही .जीनत ने इस फिल्म में काम करने से साफ़ इंकार कर दिया .

जीनत अमान द्वारा फिल्म ठुकराए जाने से फ़िरोज़ खान काफी अपसेट हो गए लेकिन उस समय उन्होंने जीनत से कुछ कहा नहीं .इस फिल्म में बाद में रेखा को ले लिया गया और शूटिंग शुरू हो गयी .जीनत का ये इनकार फ़िरोज़ खान को अंदर-ही-अंदर चुभता रहा. एक रात उन्होंने जब काफी पी ली तो उन्हें फिर जीनत का ख्याल आ गया .उन्होंने जीनत को फोन लगा कर खूब गालीगलौज की और इस तरह अपना गुस्सा शांत किया .धर्मात्मा हिट रही जिससे उत्साहित फ़िरोज़ खान ने कुर्बानी का प्लान तैयार किया .लेकिन इस बार भी हीरोइन के लिए उनके जेहन में पहला नाम जीनत का ही आया. 

फ़िरोज़ खान कुर्बानी में किसी भी कीमत पर जीनत को लेना चाहते थे जबकि जीनत फ़िरोज़ खान के साए से भी दूर भागती थी .जीनत को मनाने का काम फ़िरोज़ ने विनोद खन्ना को सौंपा जो दोनों के कॉमन फ्रेंड थे .विनोद खन्ना ने एक दिन जीनत को अँधेरे में रख कर मिलने के लिए एक होटल में बुलाया जहाँ फ़िरोज़ खान पहले से मौजूद थे. फ़िरोज़ खान को वहाँ मौजूद देख जीनत अवाक रह गयी लेकिन इससे पहले कि जीनत वहां से निकलने को सोचती फ़िरोज़ खान ने खुद आगे बढ़कर उन्हें मनाना शुरू कर दिया .आखिरकार जीनत का दिल पिघल ही गया और उन्होंने कुर्बानी के लिए अपनी रजामंदी दे ही दी .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here