Dare to Bare Acts of Bollywood Actresses

0
87

70-80 के दशक में बॉलीवुड अभिनत्रियाँ साड़ी और पल्लू का दामन छोड़ने को तैयार नहीं थी और मर्यादा की जंजीरों में बंधी परदे पर बस आंसू बहाने का काम करती थी। परदे से बाहर तो शायद ही उनके बारे में ज्यादा सुना जाता रहा हो. मीडिया बस अपनी कल्पनाओं के सहारे कुछ जानकारियां इकट्ठी कर लोगों का मनोरंजन करती थी. ऐसे समय में कई अभिनेत्रियों ने सारी मर्यादाओं को ताक पर रख कर ना केवल बॉलीवुड को शॉक्ड कर दिया बल्कि पूरे देश में उनकी ये हिमाकत चर्चा का विषय बन गयी। उन CRAZY एक्ट्स को दोहरा पाना आज के अभिनेत्रियों के भी वश से बाहर की बात है।

सबसे पहले बात प्रोतिमा बेदी की जिन्होंने बॉलीवुड के इतिहास में शायद सबसे बड़ा कारनामा किया है.कबीर बेदी की पूर्व पत्नी और कत्थक डांसर प्रोतिमा ने एक मैगज़ीन के कवर पेज पर आने के लिए जुहू बीच पर बगैर कपड़ों के दौर लगा दी। ये ऐसा वाकया था जिसने पूरे बॉलीवुड को शॉक्ड कर दिया। बाद में उनकी बेटी पूजा बेदी ने उनसे एक कदम आगे बढ़ते हुए एक मैगज़ीन के लिए टॉपलेस फोटोशूट करवा कर सनसनी मचा दी।

लंदन में पली-बढ़ी सिमी गरेवाल तो जैसे फिल्मों में आई ही थी कुछ नया कारनामा दिखाने के लिए। राज कपूर की इस खोज ने 1972 में एक फिल्म के लिए शशि कपूर के साथ सेमीन्यूड पोज देकर सबको स्तब्ध कर दिया.

फिल्मों में अभिनेत्रियों के चीर हरण के लिए विख्यात राज कपूर के लिए नारी के स्तन जैसे रीचार्ज का काम करते थे. मेरा नाम जोकर में पद्मिनी का चीरहरण करने के बाद उन्होंने अपनी अगली फिल्म ‘सत्यम शिवम् सुंदरम’ में ज़ीनत अमान के स्तनों पर ही सारी फिल्म शिफ्ट कर दी और ज़ीनत ने भी राज कपूर की कल्पनों को दर्शकों के दिलो-दिमाग में उतारने में कोई कोताही नहीं बरती।

राज कपूर ने ‘राम तेरी गंगा मैली’ में भी अपने सौंदर्य की खोज जारी रखी। फिल्म की हीरोइन मंदाकिनी को सफ़ेद साड़ी पहना कर झरने के नीचे खूब नहलाया गया। इससे भी राज साहब का मन नहीं भरा तो उन्होंने मंदाकिनी को एक सीन में बेपर्दा ही कर दिया. उस दौर में ऐसे सीन्स के लिए अभिनेत्रियों को राजी कर पाना राज कपूर के ही वश की बात थी.

राजकपूर की ही खोज रही डिंपल कपाड़िया तो जैसे बॉबी में राज कपूर की कल्पनाओं से भी आगे निकलने को तैयार थी। लेकिन राज कपूर ने सौंदर्य को अश्लील होने से बचाये रखने का भरसक प्रयास किया। लेकिन जब डिंपल को अपनी कमबैक फिल्म ‘सागर’ में दोबारा ये मौक़ा मिला तो उन्होंने फिल्म के एक सीन में टॉपलेस हो कर रमेश सिप्पी को भी अवाक कर दिया.

1992 में दीपा साही ने फिल्म माया मेमसाहब के लिए शाहरुख़ खान के साथ बेहद गर्मागर्म सीन दिए। दीपा शाही के लिए जैसे इतना ही काफी नहीं था उन्होंने फिल्म में एक टॉपलेस सीन देकर इस फिल्म को उस साल की सबसे चर्चित फिल्म बना दिया। इस कड़ी में पूजा भट्ट का न्यूड बॉडी पेन्ट और अपने पिता महेश भट्ट के साथ लिपलॉक फोटोशूट को भी बॉलीवुड के इतिहास की सबसे हंगामाखेज कारनामों में शामिल किया जा सकता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here