जब धर्मेन्द्र ने हेमा के कारण गोविंदा को मारा थप्पड़

0
96

अभिनेता धर्मेन्द्र फ़िल्मी परदे पर हमेशा अपनी दबंगई के लिए जाने जाते रहे हैं.उनकी ये दबंगई परदे के पीछे भी रही है जिसका शिकार बॉलीवुड में ही कई अभिनेता हो चुके हैं. एक बार गोविंदा भी धर्मेन्द्र की ऐसी ही दबंगई का शिकार हो गए जब गोविंदा द्वारा हेमा मालिनी की फिल्म के लिए डेट्स ना दिए जाने से नाराज धर्मेन्द्र ने गोविंदा को थप्पड़ रसीद कर दिया.

बात तब की है जब बतौर निर्माता हेमा मालिनी महेश भट्ट के निर्देशन में फिल्म ‘आवारगी’ का निर्माण कर रही थी. हेमा ने इस फिल्म में अनिल कपूर के साथ गोविंदा को कास्ट किया था लेकिन गोविंदा, अनिल कपूर के साथ काम करने को राजी नहीं थे इसलिए वो फिल्म के लिए डेट्स ही नहीं दे रहे थे .गोविंदा के इस रवैये के कारण फिल्म लगातार लेट होती जा रही थी जिसके कारण हेमा मालिनी को काफी नुकसान उठाना पड़ रहा था. महेश भट्ट ने हेमा जी को गोविंदा को फिल्म से निकाल कर किसी और अभिनेता को ले लेने को कहा लेकिन हेमा चाहती थी कि गोविंदा ही इस फिल्म में काम करे .जब गोविंदा के इस रवैये की खबर धर्मेन्द्र तक पहुँची तो उन्होंने गोविंदा को सफाई देने के लिए अपने घर बुलाया .

गोविंदा एक दिन धर्मेन्द्र के घर पहुंचे और उन्होंने धर्मेन्द्र के सामने डेट्स ना होने का बहाना बनाना शुरू कर दिया जिसे सुनते ही धर्मेन्द्र ने अपना आपा खोते हुए एक जोरदार थप्पड़ गोविंदा को रसीद कर दिया .धर्मेन्द्र के इस थप्पड़ से अवाक गोविंदा से कुछ कहते नहीं बना और वो वहीं बैठ गए .मौके की नजाकत को समझते हुए हेमा मालिनी बीच में आ गई और दोनों को शांत करवाया .आखिरकार गोविंदा इस फिल्म में काम करने को राजी हो गए .महेश भट्ट के निर्देशन में बनी ये फिल्म 1990 की हिट फिल्म साबित हुई. अपने पूरे करियर में महेश भट्ट और गोविंदा की ये पहली और आख़िरी फिल्म थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here