KARISHMA KAPOOR: बदल दी कपूर खानदान की परंपरा..

0
18
कपूर खानदान में अमूमन बेटियों को फिल्मों में करियर चुनने की आजादी नहीं होती. लेकिन सबसे पहले शशि कपूर की बेटी संजना कपूर ने इस परंपरा के खिलाफ विद्रोह किया लेकिन जल्द ही उन्होंने हथियार भी डाल दिए. संजना के बाद कपूर खानदान के बेटियों की नुमाईश की जिम्मेदारी संभाली रणधीर कपूर की पत्नी बबीता ने जिसने अपनी दोनों बेटियों करिश्मा और करीना को कपूर परंपरा के खिलाफ जाकर बॉलीवुड में एंट्री दिलाई. हालांकि इसकी कीमत उन्हें कपूर खानदान से अलग होकर चुकानी पडी.

साल 1991 में करिश्मा कपूर ने फिल्म ‘प्रेमकैदी’ से बॉलीवुड में अपनी शुरुआत की. फिल्मी सफर शुरू होते ही करिश्मा ने कपूर खानदान की सारी रवायतों को उठाकर ताक पर रख दिया और फिल्मों से ज्यादा अफेयर्स को लेकर सुर्खियां बटोरने लगी. जल्द ही उनका नाम अजय देवगन से जुड़ने लगा. करिश्मा अजय देवगन की गहरी आंखें और खामोश शख्सियत की दीवानी थी. लेकिन अजय देवगन कपूर खानदान की इस विद्रोही कन्या को लेकर कुछ ज्यादा ही नर्वस नजर आए. अजय देवगन पहले से ही रवीना टंडन को डेट कर रहे थे. करिश्मा ने देवगन को रवीना के चंगुल से निकालने के लिए जो जंग छेड़ी उसमें रवीना की हार हुई लेकिन जब काजोल ने अजय देवगन को दिल दी तो करिश्मा का सारा जोर काफूर हो गया और आखिरकार काजोल ने अजय देवगन को करिश्मा से छीन ही लिया. करिश्मा ने भी इस रिश्ते को भुलाते हुए अभिषेक बच्चन को अपने सपनों  के राज कुमार के रूप में चुन लिया. 

साल 2000 में अभिषेक बच्चन और करिश्मा कपूर का अफेयर शुरू हुआ. इस अफेयर को बच्चन और कपूर दोनों परिवारों की सहमति मिल गयी और उम्मीद की जाने लगी कि करिश्मा जल्द ही बच्चन परिवार की बहु बन जाएगी. लेकिन जल्द ही दोनों की सगाई टूटने की खबर आ गयी. इस रिश्ते के टूटने के कई वर्जन बॉलीवुड में मौजूद हैं. जिसमें सबसे ज्यादा मशहूर ये है कि जया बच्चन को शक था कि करिश्मा और सहारा प्रमुख सुब्रतो रॉय के बीच कुछ ख़ास ही रिश्ता है. उन्होंने अमर सिंह से मदद मांगी और अमर सिंह ने करिश्मा के पीछे जासूस लगा दिया. करिश्मा और सहारा श्री के रिश्ते की पुष्टि होते ही जया बच्चन ने इस रिश्ते को तोड़ने की घोषणा कर डाली और बच्चन  और कपूर परिवार के रिश्ते हमेशा के लिए ख़राब हो गए. 

साल 2003 में करिश्मा कपूर ने दिल्ली के बिजनेस टायकून संजय कपूर से शादी का फैसला कर सबको चौंका दिया. संजय कपूर पहले से शादीशुदा थे लेकिन करिश्मा के करिश्मा के कारण उन्होंने अपनी पत्नी से तलाक लेकर इसी साल 29 मई को करिश्मा से शादी कर ली. दो सालों तक ये रिश्ता ठीक-ठाक चलता रहा लेकिन फिर झगड़े शुरू हो गए. करिश्मा वापस मुंबई आ गयी. लेकिन संजय कपूर की फैमिली की सुलह-सफाई के बाद मामले को ख़त्म मान लिया गया. लेकिन 13 सालों बाद इस रिश्ते में ऐसी ऐसी दरार आई जो सीधे तलाक पर जा कर ख़त्म हुई.

इन दिनों तलाकशुदा करिश्मा एक फार्मा कंपनी के मालिक संतोष तोषनीवाल के साथ रिश्ते में है.  कई बार दोनों की शादी की ख़बरें भी आ चुकी है. लेकिन शायद इस बार करिश्मा कदम फूंक-फूंक कर उठाना चाहती हैं. इसलिए फिलहाल अफेयर का आनंद लेने में जुटी हुई है. 43 साल की हो चुकी करिश्मा कपूर की ये दूसरी शादी अगर होती है तो उम्मीद कीजिये कि सुखद हो. 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here