जब पैसों की खातिर अपनी ही मां के खिलाफ कोर्ट जा पहुँची नूतन

0
57

नूतन ने अपने फिल्मी करियर में करीब 70 फिल्मों में काम किया था। नूतन अपने हर किरदार को बखूबी निभाती थीं। यही वजह थी कि उनका नाम अपने जमाने की एक्ट्रेसेस में टॉप पर आता था। साल 1950 में नूतन ने हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में फिल्म ‘हमारी बेटी’ कदम रखा था। इस फिल्म की निर्माता और निर्देशन थीं उनकी मां शोभना समर्थ. नूतन की कामयाबी में उनकी मां का अहम्उ रोल रोल था .उन्होंने अपनी दोनों बेटियों नूतन और तनुजा के करियर को सँवारने के लिए काफी मेहनत की थी .नूतन भी अपनी मां का काफी सम्मान करती थी .लेकिन एक बार दोनों के रिश्ते इतने ख़राब हो गए कि दोनों ने हमेशा के लिए एक-दूसरे से रिश्ता ही तोड़ लिया

दरअसल नूतन पहली फिल्म के साथ ही मां की कंपनी शोभणा पिचर्स में पार्टनर बन गई थीं। हालांकि कंपनी का सारा फाइनेंसियल काम-काज शोभणा ही देखती थीं। एक दिन कंपनी के लिए इनकम टैक्स का नोटिस आया, उन्हें इनकम टैक्स चुकाना था। शोभणा ने नूतन को नोटिस दिखाया और टैक्स भरने के लिए कहा। नूतन ने जब टैक्स की रकम देखी तो उनके होश उड़ गए। टैक्स की रकम काफी ज्यादा थी।

नूतन ने मां शोभणा से कहा कि कंपनी से उन्हें सिर्फ 30 प्रतिशत मिलता है तो वह सारा टैक्स क्यों भरे लेकिन मां अपनी बात पर अड़ी रहीं। आखिर में नूतन ने उन्हें कोई प्रॉपर्टी बेचकर टैक्स भरने का भी सुझाव दिया लेकिन इससे भी मां शोभणा ने साफ इनकार कर दिया। यह मामला इतना बिगड़ गया था कि मां बेटी में काफी बहस हो गई और आखिर में दोनों ने एक-दूसरे से रिश्ते-नाते खत्म करने का फैसला कर लिया। यहां तक कि दोनों बरसों तक एक-दूसरे से अलग रहती थीं। हालांकि नूतन ने अपने हिस्सा का टैक्स जमा कर दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here