जब सनी देओल ने अनिल कपूर गला दबाया..! Bollywood Aajkal

0
183

अमूमन सनी देओल एक शांत और सभ्य किस्म के अभिनेता माने जाते हैं, लेकिन पाजी अपनी खामोशी में तूफ़ान छुपाए रखते हैं. इसलिए बॉलीवुड के ज्यादातर स्टार्स उनके साथ स्क्रीन शेयर करना पसंद नहीं करते. पाजी कब किस बात पर भड़क जाएं कहना मुश्किल है. एक बार अनिल कपूर ने पाजी की खामोशी को भांपने में गलती कर दी जिसकी उन्हें कीमत भी चुकानी पड़ी.

अनिल कपूर और सनी देओल की अदावत काफी पुरानी ही है. 1989 में आई फिल्म ‘जोशीले’ के दौरान दोनों के इस बीच तब जंग शुरू हो गई, जब फिल्म की क्रेडिट में अनिल कपूर का नाम सनी देओल से पहले डाला गया. इस बात को लेकर पहली प्रतिक्रया धर्मेंद्र ने दी जिनके मुताबिक सनी अनिल कपूर के मुकाबले बड़े स्टार थे. मीडिया ने इन बातों का बतंगड़ बना दिया और सनी ने फिल्म की शूटिंग से ही इंकार कर दिया. पहले इस फिल्म को शेखर कपूर डाइरेक्ट कर रहे थे. उन्होंने मामले को जैसे-तैसे सुलझा तो लिया लेकिन पाजी का गुस्सा शांत नहीं हुआ.

इसी साल सनी और अनिल कपूर को फिल्म ‘राम अवतार’ के लिए साईन किया गया. हालांकि सनी अनिल कपूर के साथ काम नहीं करना चाहते थे लेकिन निर्माता-निर्देशक सुनील हिंगोरानी के साथ पारिवारिक रिलेशन के कारण सनी को हामी भरनी पड़ी. शूटिंग के दौरान सनी अपने आप में सिमटे हुए रहते. खासकर अनिल कपूर से उनकी बोलचाल भी नहीं थी. दोनों अपना-अपना शॉर्ट देते और अपने मेकअप रूम में चले जाते. फिल्म के एक सीन में दोनों को फाइट करनी थी जिसके दौरान सनी को अनिल कपूर का गला पकड़ना था.

स्टारडस्ट की ख़बरों के मुताबिक़ सीन के दौरान सनी देओल ने अनिल कपूर का गला पकड़ लिया और इतनी जोर से दबाना शुरू किया कि उनकी सांसे फूलने लगी. जब निर्देशक की कट के बावजूद सनी ने उनका गला नहीं छोड़ा तो पूरी यूनिट सनी को उनसे अलग करने की कोशिश में जुट गई. लेकिन ऐसा लग रहा था कि सनी देओल अनिल कपूर से पूरा हिसाब चुकता कर लेना चाहते थे. बाद में अनिल कपूर ने इस घटना को लेकर मीडिया में सनी के खिलाफ कई बयान दिए जिससे नाराज सनी देओल ने कहा कि अगर उन्हें ऐसा ही करना होता तो आज अनिल कपूर मीडिया में बयानबाजी के बजाय कहीं और पहुँच चुके होते.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here